ग्लोबल जेंडर गैप इंडेक्स में भारत 108 वें स्थान पर

0
451
world gender gap index 2017

वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम(WEF) के ग्लोबल जेंडर गैप इंडेक्स में भारत 21 पायदान फिसलकर 108वीं पर रह गया है। अर्थव्यवस्था में महिलाओं की कम भागीदारी और मामूली वेतन के चलते भारत रैंकिंग में चीन और बांग्लादेश से भी पिछड़ गया है। WEF की ग्लोबल जेंडर गैप रिपोर्ट 2017 के मुताबिक भारत ने महिला और पुरुषों के मामले में 67 फीसदी अंतर पाटने में सफलता हासिल की है। लेकिन यह सफलता चीन और बांग्लादेश से भी फीकी है। इस इंडेक्स में बांग्लादेश 47वें और चीन 100वें स्थान पर रहा।

यह इंडेक्स 2006 में ही शुरूकिया गया था।इंडेक्स की शुरुआत से पहली बार पूरी दुनिया में जेंडर गैप के मामले में हालात सुधरने के बजाय बिगड़ी है। खासकर स्वास्थ्य, शिक्षा, कार्यस्थल और राजनीति इन चारों क्षेत्रों में महिला व पुरुषों के बीच खाई और चौड़ी हुई है। आइसलैंड पिछले 9 सालों में विश्‍व का सबसे बड़ा जेंडर इक्‍वल देश बन गया है। इंडेक्‍स के अन्‍य टॉप 10 देशों में नॉर्वे दूसरे स्‍थान पर, फिनलैंड तीसरे, रवांडा चौथे, स्‍वीडन पांचवें, निकारागुआ छठे, स्‍लोवेनिया सातवें, आयरलैंड आठवें, न्‍यूजीलैंड नौवें और फिलीपीन्‍स 10वें स्‍थान पर हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here